राहुल गांधी की घोषणा अनुसार कब चालू होगी बीएनसी मिल – मधुसूदन यादव

राजनांदगांव 26 अगस्त 2023: पूर्व सांसद एवं प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष मधुसूदन यादव ने कांग्रेस की राष्ट्रीय नेता एवं छत्तीसगढ़ प्रदेश प्रभारी के. शैलजा के द्वारा राहुल गांधी के समर्थन में दिये गये बयान पर पलटवार करते हुए अरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी में अपना राजनैतिक कद बढ़ाने और बरकरार रखने के लिये गांधी परिवार की चाटूकारिता और महिमामंडन अनिवार्य शर्त है, जिसके निर्वहन में के. शैलजा राहुल गांधी की शान में झूठे कसीदे पढ़ने से बाज नहीं आ रही है। उन्होंने आरोप लगाया है कि पिछले विधानसभा चुनाव में पूरा छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी के द्वारा दिखाये गये हसीन सपनों से छला गया है। राहुल बाबा द्वारा छत्तीसगढ़ की जनता से किये गये वायदे लगभग पॉच साल बीतने के उपरान्त भी अपूर्ण है, जिसका कांग्रेसी नेता के. शैलजा को कोई भान नहीं है।

प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष मधु ने तंज कसते हुए कहा है कि भूपेश सरकार अपने राष्ट्रीय नेता राहुल गांधी के वायदो को स्वयं गंभीरता से नहीं लेते है जिसके कारण राहुल बाबा द्वारा प्रदेश की जनता से किये गये कई वायदे दम तोड़ते नजर आ रहे है और प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के राज में स्वयं को ठगा हुआ महसूस कर रही है। भाजपा नेता मधु ने कांग्रेसी नेता के0शैलजा से पूछा है कि राहुल गांधी के घोषणा के अनुरूप छत्तीसगढ़ में शराबबंदी, राज्य में कांग्रेस सरकार बनने के 10 दिनों के भीतर अस्थायी कर्मचारियों का नियमितीकरण, संपत्तिकर हॉफ करना, दो साल का धान का बकाया बोनस देना, बीएनसी मिल को पुनः चालू करना आदि कब पूरे होंगे ? राहुल बाबा के ये वादे आज पर्यन्त अधूरे हैं जबकि राज्य सरकार की उल्टी गिनती चालू हो चुकी है और ये झूठे वादे आज भूपेश सरकार के गले में हड्डी बनकर रह गये है, जिसका प्रत्यक्ष लाभ आगामी चुनाव में भाजपा को प्राप्त होगा ।

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष ने कांग्रेसी नेत्री सुश्री शैलजा को चेतावनी देते हुए कहा है कि भाजपा के द्वारा आगामी चुनाव हेतु जल्दबाजी में प्रत्याशी तय करने की बात कहने वाली कांग्रेसी महासचिव के. शैलजा गलतफहमी में हैं क्योंकि यह भाजपा राष्ट्रीय सह राज्य संगठन की एक दूरदर्शितापूर्ण रणनीति का हिस्सा है, जिससे चुनाव हेतु भाजपा की पुख्ता तैयारी और कांग्रेस पार्टी की प्रत्याशी चयन को लेकर अनिश्चितता, संशय एवं दुविधा उजागर हुई है । भाजपा नेता मधु ने दावा किया है कि भाजपा के मजबूत प्रत्याशीयों के ऐलान से कांग्रेसी नेताओं में हड़कंप मच गया है और भाजपा नेता विजय बघेल से पूर्व निर्वाचन में पटखनी खा चुके मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वयं अपने निर्वाचन क्षेत्र को छोड़कर अन्य सुरक्षित सीट तलाशने की फिराक में हैं। पूर्व संासद मधु ने चुटकी लेते हुए यह भी कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पिछले 5 साल में अच्छा काम करने का प्रमाणपत्र देने वाली सुश्री शैलजा को पहले पंचायत मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले अपने वरिष्ठ नेता सहित अन्य कैबिनेट मंत्रियों के मन की पीड़ा और विवशता को सुन-समझ लेना चाहिये था, जो अपने मंत्री कार्यकाल में अपने विभाग के एक चपरासी तक का भी स्थानांतरण कराने के लिये मुख्यमंत्री पर निर्भर रहे हैं।

राहुल गांधी रायपुर में युवाओं के सम्मेलन को करेंगे संबोधित : सीएम भूपेश बघेल

error: Content is protected !!