अवैध गोदनामा पर सख्त बाल अधिकार आयोग, अधिकारियो और जैन दंपत्ति को करेगी तलब.. उधर एडीएम ने मांगा क़ानूनी सलाह।

स्वतंत्र बोल
रायपुर 07 जुलाई 2023. नियमो के विपरीत दत्तक ग्रहण मामले में अब छत्तीसगढ़ बाल अधिकार सरंक्षण आयोग जैन दंपत्ति सहित महिला बाल विकास विभाग अधिकारियो को नोटिस जारी करेगा। विश्वसनीय जानकारी अनुसार आयोग जल्द नोटिस जारी इस गंभीर मामले पर कार्यवाही करेगी। राजधानी में मासूम बच्ची के अवैध तरीके से गोदनामा मामले पर जिला प्रशासन की जाँच जारी है।

अवैध गोदनामा पर जाँच के आदेश: एडीएम ने जैन दंपत्ति को नोटिस जारी कर बुलाया, उधर राजनांदगांव में अवैध गोदनामा पर हुई बड़ी कार्यवाही

जिला प्रशासन में एडीएम एनआर साहू ने जैन दंपत्ति से तथ्यों सुनने के बाद विधिक परामर्श मांगा है ताकि कार्यवाही की जा सके। दरअसल केंद्रीय दत्तक ग्रहण संसाधन प्राधिकरण (कारा) के नियमो में दत्तक विलेख और स्टांप नोटरी के माध्यम से गोदनामा लेने का प्रावधान नहीं है, ऐसे में अधिकारी अपना कलम बचाने में लगे हुए है। उधर बच्ची के भविष्य को देखते हुए निर्णय लिया जा सकता है।

नोटिस तक जारी नहीं-
सितंबर 2022 चल रहे इस मामले पर जिला महिला बाल विकास विभाग ने अब तक कोई कार्यवाही नहीं की है। विभागीय अफसरों ने बेहद गंभीर मामले को दबाये रखा। तत्कालीन डीपीओ का तबादला हो चुका है तो पूर्व में पुलिस को कार्यवाही संबंधी पत्र लिखने वाले जिला बाल सरंक्षण अधिकारी की मृत्यु हो चुकी है। जिला बाल सरंक्षण अधिकारी की मृत्यु के बाद जिला नोडल अधिकारी की जिम्मेदारी बनती है। एडीएम एनआर साहू ने कहा कि

“अवैध दत्तक ग्रहण प्रकरण में जैन दंपत्ति पक्ष रखा है, उनके तथ्यों पर क़ानूनी परमार्श लिया जा रहा है..नियमो ही कार्यवाही किया जाएगा।” 

पूर्व मंत्री को एसपीजी ने मंच से उतारा: बरसते पानी में अकेले खड़े पूर्व मंत्री ने सुना भाषण, आखिर संगठन क्यों हुआ नाराज?

error: Content is protected !!