अजब गजब बहाने: डीपीओ को राजधानी में नहीं मिल रही फोटोकॉपी दुकान, कहा- अवलोकन कर हाथ से लिखकर ले जाए।

रायपुर 11 मई 2023.  महिला बाल विकास के जिला कार्यक्रम अधिकारी को राजधानी में फोटोकॉपी की दुकान नहीं मिल रही है, जहा से वे फोटोकॉपी करा सके। सुनने में आश्चर्य होगा पर है सही। दरअसल जिला महिला बाल विकास कार्यालय से कुछ लोगो ने आरटीआई से जानकारी मांगा था, जिसे जनसूचना अधिकारी डीपीओ निशा मिश्रा ने फोटोकॉपी नहीं होने का हवाला देकर नहीं दिया.. जिसकी शिकायत कलेक्टर से की गई है।
विवादित कर्मचारी पर अब तक कार्यवाही नहीं-
जिला कार्यक्रम अधिकारी निशा मिश्रा पर बाल सरंक्षण अधिकारी संविदाकर्मी संजय निराला को सरंक्षण देने का आरोप लगा है। शिकायतो के अनुसार संजय पर गंभीर आरोपों के बाद भी डीपीओ ने कार्यवाही ना कर उसे सरंक्षण दे रही है। नियमतः संविदाकर्मी पर कार्यवाही का अधिकार डीपीओ को होने के बाद भी डीपीओ ने कलेक्टर को कार्यवाही के लिए लिखा है। डीपीओ श्रीमती मिश्रा ने बताया कि
“जो जानकारी चाही गई है उसकी साइज बहुत बड़ी होने से फोटोकॉपी नहीं हो पा रही है, आधा दर्जन दुकानों में पतासाजी करने के बाद भी फोटोकॉपी नहीं हुआ तो आवेदक को अवलोकन कर हाथ से लिखकर ले जाने कहा गया है। मुझ पर संजय को सरंक्षण देने का आरोप लगा, इसीलिए मैंने कलेक्टर को कार्यवाही के लिए लिखा है।”

बाल कल्याण अधिकारी को डीपीओ का सरंक्षण: बाल कल्याण अधिकारी की मंत्री से शिकायत, महीनो बाद भी कार्यवाही नहीं.. अब धरना प्रदर्शन की तैयारी।

error: Content is protected !!