राजधानी रायपुर में मुस्लिम महासभा आज, आरंग, बिरनपुर और कवर्धा में हुई घटनाओं के विरोध में एकजुट होगा समाज

राजधानी रायपुर में मुस्लिम महासभा आज, आरंग, बिरनपुर और कवर्धा में हुई घटनाओं के विरोध में एकजुट होगा समाज

स्वतंत्र बोल
रायपुर 04 जुलाई 2024
: राजधानी रायपुर के बैजनाथपारा स्थित मुस्लिम हॉल में आज दोपहर तीन बजे से मुस्लिम समाज की महासभा का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें देश प्रदेश के कई मस्जिदों के मुतवल्ली हजरात, दरगाहों के खादिम व उर्स कमेटी के सदर, अंजुमन के सदर, बुद्धिजीवी वर्ग, सीरत कमेटी, मदरसे के मुदर्रिश शामिल होंगे। महासभा में प्रदेश में अल्पसंख्यक वर्ग के खिलाफ किए जा रहे जुल्म और अत्याचार के विरोध में आवाज बुलंद की जाएगी।

बता दें कि मुस्लिम महासभा के आयोजकों ने प्रदेश के सभी मुस्लिम समाज के लोगों से इस महासभा में शामिल होने का आह्वान किया है। समाज के लोगों का कहना है कि प्रदेश सरकार और प्रशासन को यह मालूम हो जाए कि छत्तीसगढ़ की मुस्लिम क़ौम अब जुल्म के खिलाफ लड़ने खड़ी हो चुकी है अब कोई भी, किसी भी किस्म का जुल्म मुस्लिम समाज बर्दाश्त नहीं करेगा।

समाज के लोगों का कहना है कि मुस्लिम समाज व अल्पसंख्यक समाज पर हो रहे जुल्म और अन्याय के खिलाफ अब समाज के लोग खड़े हो रहे हैं। समाज की मांग है कि अवैध पशु परिवहन को पूर्ण रूप से बंद करने और गौ रक्षा की आड़ मैं हत्या, लूट, उगाही, मॉब लिंचिग पूर्ण बंद हो।

समाज के पदाधिकारियों का आरोप है कि बीते दिनों प्रदेश के आरंग हत्याकांड की लीपापोती की जा रही है। आरंग हत्याकांड को आत्महत्या बताकर आरोपियों को बचाया व संरक्षण दिया जा रहा है। बीरनपुर हत्याकांड, कवर्धा के मुस्लिमों के घरों पर बुल्डोजर कार्यवाही, तिल्दा के मस्जिद के इमाम के साथ मारपीट कर जुलूस निकाला गया, प्रदेश की कई मस्जिदों में पथराव और गंदी सामग्री फेकना, फेसबुक, सोशल मीडिया में इस्लाम धर्म और मुस्लिम समाज के खिलाफ अभद्र अपमानजनक पोस्ट डालकर सदभाव खराब करना, पूरे प्रदेश में अल्पसंख्यक समुदाय को टारगेट किया जाना, इन्हीं सब अन्याय और नाइंसाफी के खिलाफ, प्रदेश का भाई चारा सद्भाव को बचाने मुस्लिम “महासभा” का आयोजन किया जा रहा है।धान खरीदी केंद्र में फर्जीवाड़ा के मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार, 1 करोड़ 10 लाख रुपए का हुआ था घोटाला

error: Content is protected !!