HPBOSE ने जारी किया 12वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम, टॉप-3 में लड़कियों ने बनाई जगह

धर्मशाला 21 मई 2023: हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने शनिवार को 12वीं कक्षा का परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया है। तीनों संकाय की मैरिट में तीन छात्राओं अव्वल रही हैं। साइंस संकाय की जिला ऊना की औजस्वनी उपमन्यु 98.6 प्रतिशत अंक लेकर ऑवरऑल टॉपर रही। 12वीं का परीक्षा परिणाम इस बार 79.4 फीसदी रहा है। प्रदेश भर में दूसरे स्थान पर मैरिट में सिरमौर की कामर्स की छात्रा वरिंदा ठाकुर 98.4 प्रतिशत अंक लेकर जगह बनाई है। वहीं साइंस संकाय की ऊना की कनुप्रिया ने 98.2 अंक लेकर प्रदेश भर में मैरिट में तीसरा स्थान हासिल किया है। तीनों ही मैरिट में अव्वल रही छात्राएं सरकारी स्कूलों की हैं।

12वीं का परीक्षा परिणाम पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष काफी कम आंका गया है। पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार 14.51 फीसदी रिजल्ट कम रहा है। इससे पहले 2022 में 12वीं का परीक्षा परिणाम 93.91 प्रतिशत रहा था जबकि 2021 में यह 92.77 फीसदी रहा है। इस वर्ष 12वीं के परीक्षा परिणाम कम रहने के चलते प्रश्न चिन्ह खड़ा हो गया है कि क्यों इस बार परीक्षा 14.91 फीसदी कम रहा है। बोर्ड सचिव की मानें तो इस पर स्कूल अपने स्तर पर ही मंथन कर सकते हैं।

12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम में जिला बार देखे तो मंडी जिला से 10 विद्यार्थियों ने मैरिट लिस्ट में अपना स्थान हासिल किया है जबकि दूसरे स्थान पर ऊना के 6 बच्चे रहे हैं। वहीं तीसरे स्थान पर जिला हमीरपुर व जिला कांगड़ा के बच्चे रहे हैं। साइंस संकाय में इन दोनों जिलों के 5-5 बच्चों ने स्थान हासिल किया है। बिलासपुर व कुल्लू के 3-3 विद्यार्थियों ने सांइस की मैरिट लिस्ट में जगह बनाई है। सिरमौर के 2, सोलन, शिमला के एक-एक विद्यार्थी मैरिट लिस्ट में आया है।

सांइस संकाय में चम्बा, लाहौल स्पीति, किन्नौर के विद्यार्थी जगह नहीं बना पाए हैं। काॅमर्स में ऊना के 8 बच्चों ने मैरिट में जिला वार सूची में स्थान हासिल किया है जबकि दूसरे स्थान पर कांगड़ा के 6 व तीसरे पर सिरमौर के 4 बच्चे मैरिट में रहे हैं। हमीरपुर व शिमला के 2-2, मंडी व सोलन के एक-एक विद्यार्थी ने मैरिट में स्थान हासिल किया है। बिलासपुर, चंबा, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, किन्नौर के बच्चे मैरिट में जगह नहीं बना पाए हैं।

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् बोर्ड का परीक्षा परिणाम जारी, मंत्री प्रेमसाय ने शंखनाद और मंत्रोच्चार के बीच घोषित किए नतीजे

error: Content is protected !!