क्राइम कंट्रोल करने में फेमस 3 IPS अफसर चर्चा में फिर, जानिए क्यों?

रायपुर 09 August 2023: गृह मंत्रालय ने दुर्ग जिले में पदस्थ तीनों युवा आईपीएस निखिल अशोक कुमार राखेचा, बैंकर वैभव रमनलाल और प्रभात कुमार को प्रमोट कर बस्तर संभाग भेज दिया है। तीनों आईपीएस जिले में काफी फेमस थे। इन्होंने जिले के क्राइम को काफी कंट्रोल किया था। अब इनकी जगह पर राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों को पदस्थ किया गया है।

छत्तीसगढ़ शासन ने तीन आईपीएस और तीन राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का तबादला आदेश जारी किया है। इसमें एक आईपीएस अधिकारी के तबादला आदेश का संशोधन आदेश जारी किया गया है। और एक राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को रायपुर भेजा गया है। 2019 बैच के IPS प्रभात कुमार के तबादले में संशोधन करते हुए उन्हें सीएसपी छावनी से एएसपी सुकमा बनाया गया है। वहीं IPS बैंकर वैभव रमनलाल को सीएसपी दुर्ग से एएसपी बीजापुर बनाया गया है।

IPS निखिल अशोक कुमार राखेचा को सीएसपी भिलाई नगर से एएसपी नारायणपुर बनाया गया है। इनकी जगह राज्य पुलिस सेवा के अधिकारियों को पदस्थ किया गया है। कोरबा सीएसपी विश्वदीप दीपक त्रिपाठी को सीएसपी भिलाई नगर बनाया गया है। इसी तरह डीएसपी मुख्यालय दुर्ग मणिशंकर चंद्रा को सीएसपी दुर्ग बनाया गया है। दुर्ग जिले में पहली बार तीन युवा आईपीएस को टाउन सर्किल का सीएसपी बनाकर भेजा गया था। छावनी, दुर्ग और भिलाई नगर सर्किल की जिम्मेदारी संभालने वाले तीनों आईपीएस इंजीनियर थे। यही कारण है कि इन्होंने टेक्निकल तरीके से दुर्ग जिले की क्राइम को काफी अच्छे से कंट्रोल करके रखा हुआ था। इन्होंने इंटर स्टेट क्राइम, अपग्रेडेड पुलिसिंग और डेटो-टेक्नोलॉजी पर काफी काम किया।

IPS ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या: DIG ने सर्विस पिस्टल से खुद को गोली मारी, जांच में जुटी पुलिस

error: Content is protected !!