हज यात्रा के लिए भूलकर भी न दें इस तरह किसी को पैसे, वरना हो जाएगा ‘खेला’

हज यात्रा के लिए भूलकर भी न दें इस तरह किसी को पैसे, वरना हो जाएगा ‘खेला’

स्वतंत्र बोल
राजनांदगांव 03 जुलाई 2024
:  डोंगरगढ़ में हज यात्रा के नाम पर दो लोगों से लगभग 15 लाख रुपए की ठगी करने का मामला सामने आया है। पहले तो आरोपी ने इन लोगों का नागपुर बुलाया और मुंबई के लिए ट्रेन टिकिट बुक होने का हवाला दिया और जब पीड़ित नागपुर पहुंचे तो खुद ही फोन बंद कर गायब हो गया। मामले में पुलिस ने एक आरोपी को नागपुर महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी मोहम्मद इकबाल निवासी डोंगरगढ़ 21 जून को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि इमरान शेख निवासी नागपुर द्वारा हज यात्रा में ले जाने के नाम से अलग-अलग किस्तों में आठ लाख पच्चीस हजार एवं सद्दाम हुसैन से छह लाख अड़तालिस हजार पांच सौ रुपए, इस प्रकार दोनों से 1473500 रुपए जमा कराए, इसके बाद इमरान ने विश्वास दिलाया कि हज में जाने का उनका रजिस्ट्रेशन हो गया है।

इसके बाद उसने 22 मई को मुंबई से हज के लिए भेजे जाने की जानकारी दी। इसके बाद 22 के बदले 9 जून को मुंबई से सऊदी अरब के मक्का शहर हज के लिए भेजे जाने की जानकारी देते हुए 7 जून को नागपुर रेल्वे स्टेशन बुलाया।

मुंबई जाने के लिए दुरंतो एक्सप्रेस में रिजर्वेशन होने की बात कही। 4 जून को आरोपी इमरान शेख टिकट और वीजा लेकर डोंगरगढ़ आने वाला था, लेकिन वह नहीं आया, मोबाइल भी स्विच ऑफ कर दिया।

ठगी की आशंका होने पर जब वे 7 जून को नागपुर रेल्वे स्टेशन पहुंचे तथा दुरंतो एक्सप्रेस के चार्ट चेक किया तो उनका नाम नही था। उसके बाद प्रार्थियों ने अलसुफा हज टूर कंपनी धुलिया में पता किया तो जानकारी हुई की आरोपी इमरान ने हज जाने का पैसा जमा ही नहीं किया। पुलिस से शिकायत के बाद पुलिस नागपुर में छानबीन कर आरोपी इमरान शेख को गिरफ्तार कर डोंगरगढ़ लाई है।मनेन्द्रगढ़ में तकनीकी सहयोग प्रदान करेगा यूनिसेफ, मंत्री जायसवाल ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ

error: Content is protected !!