छत्तीसगढ़ न्यूज़ : छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर अरहर, मूंग व उड़द की खरीदी

रायपुर 17 अक्टूबर 2022: छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर अरहर, मूंग व उड़द की खरीदी की जा रही है, सोमवार को अरहर की समर्थन मूल्य पर खरीदी की षुरुआत मुख्यमंत्री भूपेष बघेल ने अपने निवास कार्यालय से करते हुए कहा, किसानों के पास अब विकल्प होगा कि उन्हें जहां ज्यादा मूल्य मिलेगा, वहां वे अरहर, मूंग एवं उड़द की फसल बेच सकेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने निवास कार्यालय से वर्चुअली प्रदेश के 20 उपार्जन केंद्रों में अरहर, मूंग एवं उड़द की फसल की समर्थन मूल्य में खरीदी की शुरूआत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीदी से किसानों की आय बढ़ेगी।

किसानों के पास अब विकल्प होगा कि उन्हें जहां ज्यादा मूल्य मिलेगा वहां वे अरहर, मूंग एवं उड़द की फसल बेच सकेंगे। छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ मर्यादित (मार्कफेड) के माध्यम से अरहर एवं उड़द की फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य 6600 रूपए प्रति क्विंटल और मूंग फसल की फसल 7755 रूपए प्रति क्विंटल की दर से खरीदी की जायेगी। किसानों की सुविधा को देखते हुए राज्य में 20 उपार्जन केंद्र बनाए गए हैं। इस वर्ष उड़द और मूंग का उपार्जन 17 अक्टूबर 2022 से 16 दिसम्बर 2022 तक और अरहर का उपार्जन आगामी वर्ष में 13 मार्च 2023 से 12 मई 2023 तक की अवधि में किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत शासन द्वारा पंजीकृत किसानों से अरहर चार क्विंटल., मूंग दो क्विंटल. एवं उड़द तीन क्विंटल प्रति एकड़ की दर से समर्थन मूल्य में खरीदी की जाएगी। छत्तीसगढ़ में उड़द, मूंग एवं अरहर की फसलें भी अच्छी मात्रा में होती हैं, राज्य के जशपुर, सरगुजा, गरियाबंद, रायगढ़, कोंडागांव के क्षेत्रों में उड़द, जांजगीर, रायगढ़, कबीरधाम, कोंडागांव, जशपुर के क्षेत्रों में मूंग और कबीरधाम, जशपुर, बलरामपुर, राजनांदगांव, सरगुजा के क्षेत्रों में अरहर की फसल का उत्पादन किया जाता है।

समर्थन मूल्य पर उड़द-मूंग की खरीदी: 13 मार्च 2023 से अरहर भी खरीदेगी सरकार, मंडी और कृषक कल्याण शुल्क माफ किया

error: Content is protected !!