कांग्रेस पदाधिकारियों की बैठक पर अजय चंद्राकर का तंज

रायपुर 5 अगस्त 2023: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज की अध्यक्षता में पार्टी पदाधिकारियों की कांग्रेस मुख्यालय में होने वाली बैठक को लेकर पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि दीपक बैज को कांग्रेस में कोई नेता नहीं मानता है। खुद को नेता साबित करने के लिए बैठक कर रहे हैं। उन्हें सार्वजनिक रूप से स्पष्ट करना चाहिए कि उनकी स्वतंत्र छवि है। वह अपनी मर्जी से नियुक्ति करेंगे, मुख्यमंत्री के सील ठप्पा नहीं है।

पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने प्रदेश सरकार के रोका छेका अभियान को लेकर कहा कि प्रदेश में जंगल कानून लागू है। कोई आदमी किसी भी तरह का अत्याचार कर सकता है। कानून का कोई राज नहीं है, कोई जनकल्याणकारी योजनाएं नहीं है। केवल भ्रष्टाचार को छोड़कर। सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को जानवर पकड़ने में लगाना चहिए। यह सोमालिया की तरह असफल राज्य है।

जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल को लेकर अजय चंद्राकर ने कहा कि सरकार को यह बताना चाहिए कि जो कहा है वह करते क्यों नहीं। हड़ताल उनका मौलिक अधिकार है। इसका सिर्फ स्वास्थ्य सेवाओं पर नहीं, प्रत्येक विभाग में असर बढ़ रहा है। सभी वर्ग सरकार से परेशान हैं।

अजय चंद्राकर ने केन्द्र से मिलने वाली राशि को लेकर कांग्रेस पार्टी के प्रेस कॉन्फ्रेंस पर कहा कि मैं कांग्रेसियों का बयान सुन रहा था। कुछ कांग्रेसी रेल टिकट को भी उसमें जोड़े हैं। यह इनका दिमागी दिवालियापन है। अपनी असफलता छिपाने के लिए उलूल-जुलुल वक्तव्य दे रहे हैं। छत्तीसगढ़ को पैसा क्यों चाहिए? सरकार को पैसे की क्या जरूरत है? भ्रष्टाचार करने के लिए पैसा चाहिए।

प्रधानमंत्री के नाम से है इन्हें घृणा

चंद्राकर ने पीएम आवास के लिए केंद्र की राशि न मिलने से दिक्कतों को लेकर कहा कि ये प्रधानमंत्री आवास बनाना ही नहीं चाहते हैं। प्रधानमंत्री के नाम से इन्हें घृणा है। इनके जल जीवन मिशन का भ्रष्टाचार सबको मालूम है। डीएमएफ फंड से ही गौठान बने हैं। कांग्रेसियों को बांटने के लिए पैसा चाहिए क्या? दारू बेचने के लिए आउटसोर्सिंग के लिए दूसरी कंपनी चाहिए क्या? किसके लिए पैसा चाहिए, स्पष्ट कर लें, हम दिलवा देंगे।

किसानों से सड़क पर थरहा देने कहा

वहीं छत्तीसगढ़ में सड़कों की स्थिति पर पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर ने तंज कसते हुए कहा कि विधानसभा में मैने किसानों में थरहा दे देने की बात कही थी। गृह मंत्री से रोपा लगाने का आग्रह किया था, सरकार की कुछ इनकम हो जाएगी। शिक्षा व्यवस्था बदहाल हो चुकी है। मुख्यमंत्री केवल घोषणा पर घोषणा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री रॉकस्टार बन गए हैं। प्रदेश में सोलो शो चल रहा है।

छत्तीसगढ़ की जनता चाहती है पीएम आएं

17 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रायगढ़ दौरे पर अजय चंद्राकर ने कहा कि प्रधानमंत्री का छत्तीसगढ़ में स्वागत है. छत्तीसगढ़ की जनता चाहती है पीएम छत्तीसगढ़ आएं। सिर्फ सीएम नहीं चाहते कि यहां पर पीएम और केंद्रीय मंत्री आएं।

भाजपा का चुनावी ब्लू प्रिंट तैयार करने गुजरात-महाराष्ट्र से आ रहे विधायक, कांग्रेस का तंज

error: Content is protected !!