72 पेज के नोटशीट और दस्तावेज किया सार्वजनिक, चौपाटी निर्माण को लेकर सरकार पर झूठी जानकारी देने का लगाया आरोप-राजेश मूणत

रायपुर 19 जनवरी 2023: पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने राजधानी के साइंस कॉलेज के सामने बन रही चौपाटी को लेकर सरकार पर छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय में झूठी और गलत जानकारी देने का आरोप लगाया है। उन्होंने बुधवार को सूचना के अधिकार कानून (RTI) से प्राप्त 72 पेज के नोटशीट और दस्तावेज सार्वजनिक कर आरोप लगाया कि चौपाटी निर्माण का कार्य चल रहा है।

रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने चौपाटी निर्माण का काम रायपुर कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड को 16 करोड़ 76 लाख 68 हजार 765 रुपये में दिया है। इसका टेंडर 12 जून 2020 को खोला गया। इस कार्य के लिए 17 करोड़ 21 लाख 92 हजार 976 रुपये का प्राक्लन तैयार किया गया था।

मूणत ने कहा कि चौपाटी निर्माण को लेकर 19 दिसंबर 2022 को RTI लगाई गई थी। जिसके तहत 72 पेज के दस्तावेज और नोटशीट की कॉपी बुधवार को मिली। जिसमें ये खुलासा हुआ कि NIT के पास यूथ हब के नाम पर चौपाटी का निर्माण कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ये दस्तावेज 20 जनवरी को हाईकोर्ट के निर्धारित सुनवाई में प्रस्तुत किया जाएगा।

मूणत ने ये भी कहा कि इस तरह पूरे प्रदेश में सरकार के दबाब में काम हो रहे है। न्यायालय को भी गुमराह किया जा रहा है। लेकिन हमें न्यायपालिका पर पूरा विश्वास है। कानून की जीत होगी, सत्य की जीत होनी तय है।

CG में 5 हजार 127 करोड़ रुपए के चावल का घोटाला, PM मोदी ने गरीबों के लिए भेजा था- पूर्व मंत्री राजेश मूणत

error: Content is protected !!