किसानों को 10.18 लाख मीट्रिक टन रासायनिक उर्वरक वितरित

रायपुर 06 अगस्त 2023: खरीफ सीजन के लिए राज्य में पर्याप्त मात्रा में उर्वरक उपलब्ध है। इस साल 12.19 लाख मीट्रिक टन उर्वरक वितरण के लक्ष्य के विरूद्ध मार्कफेड, सहकारी समिति एवं निजी क्षेत्र में 14.70 लाख मेट्रिक टन उर्वरक भण्डारित है, जो कि वितरण लक्ष्य का 121 प्रतिशत है। किसानों को विभिन्न प्रकार के रासायनिक उर्वरकों का वितरण लगातार जारी है। अब तक किसानों को सहकारी समितियों एवं निजी फर्मों से 10 लाख 18 हजार 965 मीट्रिक टन उर्वरक का वितरण किया जा चुका हैं, जिसमें 4 लाख 70 हजार 36 मीट्रिक टन यूरिया, 2 लाख 84 हजार 646 मीट्रिक टन डीएपी, 74 हजार 85 मीट्रिक टन एनपीके, 36 हजार 872 मीट्रिक टन पोटाश तथा एक लाख 36 हजार 326 मीट्रिक टन सुपर फास्फेट शामिल है।

चालू खरीफ सीजन के लिए राज्य में सहकारिता एवं निजी क्षेत्र के माध्यम से किसानों को 12 लाख 19 हजार मीट्रिक टन खाद वितरण का लक्ष्य निर्धारित है, जिसके विरूद्ध 14 लाख 70 हजार 372 मीट्रिक टन का भण्डारण करा लिया गया है, जो कि लक्ष्य का 121 प्रतिशत है। कृषि विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार मार्कफेड के डबल लाक और समितियों में कुल 8 लाख 80 हजार 177 मीट्रिक टन तथा निजी क्षेत्र के विक्रेताओं के यहां 5 लाख 90 हजार 195 मीट्रिक टन खाद का भण्डारण किया गया है। फिलहाल राज्य में डबल लाक और सहकारी समितियों में 2 लाख 39 हजार 31 मीट्रिक टन तथा निजी विक्रेताओं के यहां 2 लाख 12 हजार 376 मीट्रिक टन इस प्रकार कुल 4 लाख 51 हजार 407 मीट्रिक टन उर्वरक वितरण हेतु उपलब्ध है।

किसानों के काम की खबर, अब इस तारीख तक करा सकते हैं फसल बीमा

error: Content is protected !!